October 19, 2021

(पूरी हकीकत)

ढोल-नगाड़ों के साथ पंचायत सचिवों के हड़ताल को मिल रहा समर्थन

न्यूज़ सर्च@जशपुर :- पूरे छत्तीसगढ़ के पंचायत सचिव और रोजगार सहायक अपनी कई मांगों को लेकर अनिश्चितकालीन हड़ताल पर हैं। वहीं मनोरा में सरपंच संघ ने पंचायत सचिव और रोजगार सहायकों का समर्थन करते हुए ढोल- नंगाड़े बजाए।
सरपंचों ने बताया कि कामकाज काफी हद तक प्रभावित है। ऐसे में उनके समर्थन में मनोरा के सरपंच संघ ने सीएम भूपेश बघेल से मांग की है कि इनकी मांग जल्द पूरी की जाए नहीं तो सभी पंचायतों के कार्य ठप हो रहे हैं, जिससे काफी लोगों को परेशानी का सामना करना पड़ रहा है।
बता दें कि पंचायत सचिव 2 साल की परीविक्षा अवधि पूर्ण कर चुके सचिवों को नियमित करने की मांग को लेकर 26 दिसंबर से अनिश्चित कालीन हड़ताल पर बैठे हुए हैं। तो दूसरी तरफ ग्राम रोजगार सहायक संघ अपने तीन सूत्रीय मांग को लेकर 30 दिसंबर से काम बंद कर रखा है। ऐसे में पंचायत का सम्पूर्ण कार्य तथा शासन की महत्वकांक्षी नरवा , गरुवा , घुरुवा , बाड़ी समेत सभी कामकाज प्रभावित है। रोजगार सहायकों के हड़ताल में जाने से मनरेगा की मजदूरी भुगतान मस्टर रोल संबंधित काम बंद है।

ये है मांग

जनपद पंचायत के 44 पंचयतों के सचिव जनपद पंचायत मनोरा में 2 वर्ष परीक्षा अवधि के पश्चात शासकीयकरण करने सबंधी मांग को लेकर अनिश्चितकालीन हड़ताल पर हैं। शीतकालीन सत्र की महत्ता को समझते हुए राज्य शासन को बजट सत्र में शासकीय करण की मांग को शामिल करने का अल्टीमेटम दिया जाए। सचिवों की बेमियादी हड़ताल से कोरोना संकटकाल में न केवल शासकीय कार्य प्रभावित हो रहा, बल्कि लोगों को परेशानी उठानी पड़ रही है।

You cannot copy content of this page

en_USEnglish
Open chat
विज्ञापन के लिए इस नंबर पर संपर्क करें