March 1, 2021

(पूरी हकीकत)

BIG BREAKING : ACB ने एक ही दिन में 4 को रिश्वत लेते रंगे हाथ किया गिरफ्तार…

न्यूज़ सर्च@रायपुर :- एसीबी (anti corruption bureau) ने बुधवार को भ्रष्टाचारी शासकीय सेवकों को गिरफ्तार करने एक के बाद एक ताबड़तोड़ कार्रवाई की। acb भ्रष्टाचार निरोधक ब्यूरो ने बड़ी कार्रवाई को अंजाम देते हुए चार अलग-अलग सरकारी कर्मचारियों को रिश्वत लेते गिरफ्तार किया है। इन सरकारी कर्मचारियों को एसीबी के द्वारा रंगे हाथों पकड़ा है।
बता दें कि एसीबी ने पहली कार्रवाई बलरामपुर जिले के रामचंद्रपुर में की है। यहां जनपद पंचायत सीईओ विनय गुप्ता को 60 हजार की रिश्वत लेते हुए एसीबी ने रंगे हाथों गिरफ्तार किया है। ठेकेदार को भुगतान का चेक काटने के एवज में 1 लाख रुपए मांग रहा था। जिसके बाद प्रार्थी द्वारा विभाग में इसकी शिकायत की गई। शिकायत की पुष्टि होने पर विभाग की ओर से प्लान बनाकर भ्रष्ट अधिकारी को गिरफ्तार किया गया।
ACB ने अपनी दूसरी कार्रवाई बलौदा बाजार जिले के सिमगा में की है। यहां एसीबी ने ग्रामीण यांत्रिकी सेवा विभाग के उप अभियंता सुनील कुमार अग्रवाल को 12000 की रिश्वत लेते धर दबोचा है। अभियंता ने सीसी रोड निर्माण कार्य के मूल्यांकन और सत्यापन के एवज में रिश्वत की मांग की थी।
इसी प्रकार एंटी करप्शन ब्यूरो ने अपनी तीसरी कार्रवाई सरगुजा जिले के बतौली में की है। यहां खंड शिक्षा अधिकारी कार्यालय में कार्यरत सहायक ग्रेड 2 प्रमोद गुप्ता को रिश्वत लेते गिरफ्तार किया गया है। प्रार्थी ने एसीबी कार्यालय में शिकायत दी थी कि आरोपी सातवें वेतनमान के एरियर की राशि निकलवाने की एवज में 10,000 रुपए की मांग कर रहा है। जिस पर एसीबी की अंबिकापुर यूनिट द्वारा सत्यापन के बाद ट्रेप कर आरोपी को 10 हजार रुपए की रिश्वत लेते गिरफ्तार किया है।
चौथी कार्रवाई नारायणपुर जिले में की गई है। राज्य शिक्षा अधिकारी कार्यालय में कार्यरत सहायक ग्रेड 3 कर्मचारी किशोर कुमार मेश्राम को 10,000 रुपए की रिश्वत लेते रंगे हाथों पकड़ा गया। आरोपी ने प्रार्थी को अन्य शाला में सरलीकरण करवाने के एवज में इस रिश्वत की मांग की थी। विभाग की ओर से पकड़े गए चारों आरोपियों के खिलाफ एफ आई आर दर्ज कर लिया गया है। सभी के विरुद्ध वैधानिक कार्रवाई की जाएगी।

You cannot copy content of this page

en_USEnglish
Open chat
विज्ञापन के लिए इस नंबर पर संपर्क करें