March 3, 2021

(पूरी हकीकत)

डेढ़ करोड़ की लागत से बने मिनी प्लांट से जिला अस्पताल में ऑक्सीजन सप्लाई शुरू


न्यूज सर्च, बिलासपुर, दिसंबर 29-

डेढ़ करोड़ की लागत से तैयार छत्तीसगढ़ का पहला मिनी ऑक्सीजन प्लांट सोमवार को शुरू हो गया। इस प्लांट से कोविड-19 अस्पताल और मातृ शिशु अस्पताल में ऑक्सीजन की सप्लाई शुरू कर दी गई है। इससे हर माह 3000 सिलेंडरों की बचत होगी। 

जिला कोविड-19 हॉस्पिटल और मातृ शिशु अस्पताल में रोजाना करीब 10 आक्सीजन सिलेंडरों की जरूरत पड़ती है। कई बार तो ऑक्सीजन खत्म होने पर दूसरे अस्पतालों से मंगाना पड़ता था। इस समस्या को हमेशा के लिए दूर करने के लिए जिला करोड़ पचास लाख रुपए की लागत से प्रदेश का पहला मिनी ऑक्सीजन प्लांट बनाया गया है। इस प्लांट में प्रतिदिन 125 सिलेंडर के बराबर ऑक्सीजन प्रोडक्शन की क्षमता है। सोमवार को प्लांट शुरू कर दिया गया है। इसके साथ ही कोविड-19 और मातृ शिशु अस्पताल में ऑक्सीजन सप्लाई शुरू भी कर दी गई है। अब हर माह करीब 3 हजार सिलेंडरों की बचत होगी, यानी शासन को अब ऑक्सीजन सिलेंडर पर लाखों रुपए खर्च नहीं करना पड़ेगा। 

मिलेगी शुद्ध क्वालिटी की ऑक्सीजन

मिनी ऑक्सीजन प्लांट शुरू करने के साथ ही इसकी क्वालिटी की जांच भी की गई है। इस दौरान सबसे शुद्ध ऑक्सीजन निर्मित होने की जानकारी भी सामने आई है। यहां गैस सिलेंडर से ज्यादा शुद्ध ऑक्सीजन निर्मित हो रही है। 

वर्जन-

देश का पहला ऑक्सीजन प्लांट डेढ़ करोड़ की लागत से बनकर तैयार है। उसमें से ऑक्ससीजन की सप्लाई भी शुरू हो गई है। इससे अब हर माह करीब 3000 सिलेंडरों की बचत होगी। 

– डॉ. अनिल गुप्ता, सिविल अस्पताल बिलासपुर

You cannot copy content of this page

en_USEnglish
Open chat
विज्ञापन के लिए इस नंबर पर संपर्क करें