February 25, 2021

(पूरी हकीकत)

17162 लोग कोरोना से स्वस्थ, आयुष्मान कार्ड बनाने वाले जाएंगे इनके घर

दैनिक भास्कर, बिलासपुर, दिसंबर 22 :-
कोरोना से ठीक होने वाले लोगों के लिए राहत की खबर है। स्वास्थ विभाग की टीम अब उनके घर पहुंचकर आयुष्मान कार्ड बनाएगा। हां लेकिन इसके लिए लोगों के पास राशन कार्ड होना अनिवार्य है। चाहे वह बीपीएल हो या फिर एपीएल। स्वास्थ विभाग से मिली जानकारी के मुताबिक यह कवायद इसलिए शुरू की जा रही है ताकि ज्यादा से ज्यादा लोगों को खूबचंद बघेल स्वास्थ्य सहायता योजना का लाभ मिले। इस योजना के तहत आयुष्मान कार्ड धारियों को 50 हजार से लेकर 5 लाख तक का इलाज मुफ्त में में मिलता है। एपीएल कार्ड धारी 50 हजार और बीपीएल वाले 5 लाख तक सरकारी और निजी अस्पताल में निशुल्क इलाज करा सकते हैं।
बता दें कि इस योजना के तहत इलाज कराने वाले मरीजों को 60 फ़ीसदी केंद्र सरकार तो वहीं 40 फ़ीसदी राज सरकार का अंशदान होता है। ऐसे समझिए यदि किसी के इलाज पर एक लाख खर्च होता है तो केंद्र सरकार से स्वास्थ्य विभाग को ₹60000 और राज्य सरकार से ₹40000 मिलता है। इधर जिला कोविड अस्पताल और कोविड सेंटरों में जिन मरीजों को भर्ती कर निशुल्क इलाज किया गया, उनका आयुष्मान कार्ड बनाया गया था। ताकि स्वास्थ्य विभाग केंद्र सरकार द्वारा मिलने वाली राशि से इलाज का हिस्सा निकाल सके। अब जिन मरीजों का कार्ड नहीं बना बन पाया उनका भी कार्ड बनाया जाएगा। इसके लिए टीम ने सर्वे शुरू कर दिया है। जिला कोविड अस्पताल और कोविड सेंटरों में भर्ती होने वाले मरीजों का खाका तैयार कर उनके दिए गए फोन नंबर पर संपर्क कर दर्शाए गए पते पर पहुंचकर उनका कार्ड बनाया जाएगा।

You cannot copy content of this page

en_USEnglish
Open chat
विज्ञापन के लिए इस नंबर पर संपर्क करें