October 25, 2021

(पूरी हकीकत)

कैनवास पेंटिंग व रंगोली के जरिए बच्चों ने नेशनल हाइवे में दिखाए गड्ढों से लोगों की जंग

भिलाई – बारिश में नेशनल हाइवे के गड्ढों के चलते लोगों को कितनी परेशानी हो रही है इसे दुर्ग जिले के बच्चों ने पेंटिंग्स के जरिए जिम्मेदार अधिकारियों तक पहुंचाने की कोशिश की। शुक्रवार को भिलाई पॉवर हाउस में नेशनल हाइवे के किनारे बच्चों ने पेंटिंग्स प्रतियोगिता के जरिए अनोखा विरोध प्रदर्शन किया। बच्चों ने अपनी-अपनी पेंटिग्स व रंगोली आर्ट के जरिए शासन प्रशासन को जगाने की कोशिश की। उन्होंने अपनी पेंटिंग्स और रंगोली में सड़क में हुए गड्ढों की तस्वीर तो दिखाई ही साथ ही यह भी बताया कि उससे लोगों को कितनी परेशानी हो रही है।

भिलाई नगर निगम के पूर्व नेता प्रतिपक्ष रिकेश सेन के नेतृत्व में नेशनल हाइवे की दुर्दशा के विरोध में पिछले दो दिन से लगातार प्रदर्शन किया जा रहा है। पहले दिन यहां शहर की महिलाओं और युवतियों ने खूब सज संवर कर सड़क में हुए गड्ढों में भरे कीचड़ में रैंपवॉक अपना विरोध दर्ज कराया था। इसके बाद शहर के नाई वर्ग ने रोड पर ही सेलून लगाया और कुर्सी रखकर वहीं लोगों के बाल भी काटे। इसी कड़ी में तीसरे दिन शुक्रवार को सड़क पर हुए इन गड्ढों के विषय को लेकर रंगोली व पेंटिंग प्रतियोगिता आयोजित की गई।

रंग लाई मेहनत शुरू हुई मरम्मत

पिछले तीन दिनों से जन सहयोग से किए जा रहे इस प्रदर्शन का असर शुक्रवार को दिखा। फ्लाईओवर बना रही कंपनी ने सड़क की मरम्मत का कार्य शुरू कर दिया। इसी के साथ ही भाजपा नेता रिकेश सेन ने लोगों मिठाई बांटी और प्रदर्शन को बंद करने की बात कही।

प्रदर्शन को राजनीतिक रूप न देने की अपील

भाजपा नेता रिकेश सेन ने कहा कि यह विरोध प्रदर्शन जनता के हित के लिए था। जनता का पूरा सहयोग मिला और इसमें उन्हें सफलता भी मिली। इस प्रदर्शन को किसी भी रूप में राजनीतिक दृष्टि से न देखा जाए। इसमें हमारी बहनों और बच्चों का काफी सहयोग मिला। इन्हीं के अथक प्रयास का फल है कि प्रशासन जागा है। विरोध का एक और बड़ा कारण यह था कि अभी तक हम कोरोना में अपनों के जाने का गम भुला नहीं पाए और अब नेशनल हाइवे की खराब हालत से लोगों की जान जा रही है। इसलिए इसे लेकर प्रशासन को जगाना बहुत जरूरी था।

You cannot copy content of this page

en_USEnglish
Open chat
विज्ञापन के लिए इस नंबर पर संपर्क करें