October 20, 2021

(पूरी हकीकत)

कांग्रेस हाईकमान ने दिग्गजों से काटी कन्नी, पंजाब के CM के बने चन्नी

न्यूज़ सर्च@चंडीगढ़ :- पंजाब के मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह के सीएम पद से इस्तीफा देने के बाद से सभी यही कयास लगा रहे थे कि अगला चेहरा कौन होगा। सभी यह सोच रहे थे कि नवजोत सिंह सिद्धू के चहेते को मुख्यमंत्री बनाया जाएगा। सीएम की रेस में प्रताप सिंह बाजवा, सुखजिंदर रंधावा, सुनील जाखड़ और अंबिका सोनी समेत कई दिग्गज चेहरों के नाम लिए जा रहे थे। लेकिन रविवार को शाम होते-होते सारे दिग्गज धरे रह गए और कांग्रेस आलाकमान ने चरणजीत सिंह चन्नी को पंजाब का सीएम बनाए जाने का फैसला लिया है।

चरणजीत सिंह चन्नी राज्य के पहले दलित सीएम होंगे। पंजाब की राजनीति पर पकड़ रखने वाले जानकारों का कहना है कि कांग्रेस ने उन्हें इसलिए सीएम बनाया है ताकि बड़े नेताओं की गुटबाजी को दूर किया जा सके। यही मकसद था कि दिग्गजों के क्लब में किसी भी नेता को सीएम बनाने की बजाय अपेक्षाकृत नए नेता चरणजीत सिंह चन्नी को चुना है।

चमकौर सीट से तीसरी बार विधायक बने चरणजीत सिंह चन्नी रमदसिया सिख समुदाय से आते हैं। यही वजह है कि उनकी पकड़ हिंदू दलितों के अलावा सिखों के बीच भी अच्छी खासी है। इसके अलावा वह साफ छवि के नेता रहे हैं। ऐसे में कांग्रेस ने उन्हें सीएम बनाकर एक साथ कई समीकरणों को साधने का प्रयास किया है। दरअसल राज्य में लंबे समय से किसी दलित नेता को सीएम या फिर डिप्टी सीएम जैसा पद दिए जाने की मांग विपक्षी दलों की ओर से उठती रही है। यहां तक कि अकाली दल ने तो ऐलान किया था कि यदि वह सत्ता में आता है तो फिर किसी दलित लीडर को डिप्टी सीएम बनाया जाएगा। ऐसे में कांग्रेस का यह दांव उसके ऐलान की काट करने वाला साबित हो सकता है।

You cannot copy content of this page

en_USEnglish
Open chat
विज्ञापन के लिए इस नंबर पर संपर्क करें