March 2, 2021

(पूरी हकीकत)

एनएफएल के अधिकारियों का दावा कर्मचारी ने घरेलू झगड़े के चलते किया सुसाइड

जांच में लॉकडाउन के कारण अपने घर नही जा पाने के कारण परेशान रहने की बात 

न्यूज़ सर्च@रायगढ़:- चक्रधर नगर थाना अंतर्गत पंचवटी कॉलोनी में नेशनल फर्टिलाइजर लिमिटेड (एनएफएल) के कर्मचारी की खुदकुशी मामले में नया मोड़ आ गया है। एनएफएल के अधिकारियों ने दावा किया है कि युवक छुट्टी की वजह से नहीं बल्कि खुद घरेलू कलह के चलते काफी फ्रस्ट्रेशन में था और उसकी के चलते उसने फ्रस्ट्रेशन में आकर खुदकुशी जैसा कदम उठाया है। वहीं मामले की जांच कर रही चक्रधर नगर पुलिस का कहना है कि युवक ने लाकडॉउन में घर न जा पाने के चलते फ्रस्ट्रेशन में आकर यह कदम उठाया है। पीड़ित परिवार का आरोप है कि एनएफएल अधिकारी बार-बार कहने के बाद भी उसे छुट्टी नहीं दे पा रहे थे जिससे वह काफी दुखी था और वह काफी फ्रस्ट्रेशन में भी था। इसके चलते युवक ने फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली।

जानकारी के अनुसार युवक का नाम सागर परमार उम्र – 30 वर्ष, निवासी – सागर (मध्यप्रदेश) है। वह रायगढ़ के पंचवटी कॉलोनी में भगत राम पटेल के मकान नंबर 18 में किराया से रहता था। ववहीं युवक ने फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली। अभी तक आत्महत्या के कारणों का पता नहीं चल पाया है। चक्रधर नगर पुलिस पोस्टमार्टम आने का इंतजार कर रही है। बताया जा रहा है कि युवक 6 महीने पहले तक इसी मकान में अपनी पत्नी के साथ रहता था। पत्नी के गर्भवती होने के चलते सागर पत्नी को  ससुराल छोड़ कर आया था। वहां लॉकडाउन से कुछ दिन पहले ही पत्नी ने एक बेटी को जन्म दिया था। लॉकडाउन हो जाने के चलते सागर बेटी को देखने नहीं जा पा रहा था। वहीं घर वाले भी संक्रमण के खतरे को देखते हुए बहू और बेटी को रायगढ़ नहीं भेज पा रहे थे। पुलिस की पुछताछ में भी यही बात सामने आई कि युवक पिछले 6 महीने से अपने घर नहीं गया था। अपने परिवार से न मिलने और गांव न जा पाने को लेकर वह परेशान रहता था। वहीं कुछ लोगों ने बताया कि ज्यादा काम की वजह से वह डिप्रेशन में भी रह रहा था।

वर्सन- 

हमने उच्च अधिकारियों को मामले की जानकारी दे दी है। सागर परमार ने खुदकुशी छुट्टियां न मिलने की वजह से नहीं बल्कि अपने घरेलू कारणों से की है। सरकारी विभाग में छुट्टियों की कमी नहीं रहती। वह जब चाहता उसे छुट्टी दी जाती थी।

– सुनील महाजन, इंचार्ज एरिया ऑफिस एनएफएल बिलासपुर

You cannot copy content of this page

en_USEnglish
Open chat
विज्ञापन के लिए इस नंबर पर संपर्क करें