August 1, 2021

(पूरी हकीकत)

वर्ल्ड बुक आफ रिकार्ड ने IPS रतनलाल डांगी का किया सम्मान

कोविड-19 संक्रमण काल के दौरान जागरूकता को लेकर लगातार सक्रिय रहे बिलासपुर आईजी डांगी

न्यूज सर्च, बिलासपुर – कोरोना काल के दौरान कोविड-19 से बचाव के लिए योग और व्यायाम पर जागरूकता फैलाने के लिए बिलासपुर आइजी आईपीएस रतनलाल डांगी को वर्ल्ड बुक आफ रिकार्ड ने सम्मानित किया है। कोरोना संक्रमण काल के दौरान जब लोग कोरोना से बचने के लिए अपने अपने घरों में थे, तब आइजी डांगी अपनी पूली पुलिस फोर्स के साथ न सिर्फ ड्यूटी पर सड़कों पर निकल रहे थे, बल्कि लोगों को कोरोना से बचाने के लिए अपने शोसल मीडिया एकाउंट के माध्यम से अलग-अलग योग व व्यायाम करके जागरूकता अभियान चलाया।

उन्होंने योग और व्यायाम के वीडियो जारी कर लोगों को प्रेरित किया। साथ ही कोरोना को लेकर कई प्रेरक संदेश भी प्रसारित किए। आइजी डांगी के इस अभियान से कई लोग प्रेरित भी हुए। इस पर वर्ल्ड बुक आफ रिकार्ड की ओर से उन्हें प्रमाण पत्र दिया गया ह।

स्वयं हुए कोरोना संक्रमित

कोरोना संक्रमण की दूसरी लहर के दौरान आइजी रतनलाल डांगी अपनी ड्यूटी में सक्रिय रहे। इस दौरान वे स्वयं भी कोरोना संक्रमित हो गए थे। इस दौरान उन्होंने घर में ही रहकर अपना उपचार कराया। इस बीच उन्होंने कई वीडियो जारी किए। साथ ही संक्रमित लोगों को कोरोना से लड़ने के लिए प्रेरित किया। कोरोना संक्रमण से स्वस्थ होने के बाद आइजी डांगी रेंज के सभी जिलों में निरीक्षण के लिए पहुंचे। इस दौरान उन्होंने रेंज के पुलिस अधीक्षकों को कोरोना संक्रमित पुलिस जवानों का हाल जानने कहा। साथ ही थाना स्तर पर कोरोना संक्रमित जवानों की मदद करने के लिए कहा। उन्होंने स्वयं कोरोना संक्रमित पुलिस कर्मियों का फोन पर हाल जाना।

आईजी के फैंस में खुशी की लहर

आईजी डांगी जिस तरह कोरोना काल में लोगों की सेवा के लिए समर्पित रहे और उन्हें इतना बड़ा सम्मान मिला है, इससे उनके शोसल मीडिया अकाउंट के फैंस और फालोअर में काफी खुशी है। सभी लोग उन्हें अपनी ओर से बधाई दे रहे हैं। लोगों के इस प्यार को देखते हुए न सिर्फ आईपीएस डांगी का बल्कि पूरे पुलिस परिवार का हौसला बढ़ा है।

You cannot copy content of this page

en_USEnglish
Open chat
विज्ञापन के लिए इस नंबर पर संपर्क करें