June 15, 2021

(पूरी हकीकत)

रायगढ़ में कोविड वैक्सीन लगाने के तुरंत बाद हुई मौत के मामले ने पकड़ा तूल… जांच में पहुंची ज्वाइंट डायरेक्टर… कहा पोस्टमार्टम के बाद ही पता चलेगा मौत का सही कारण

न्यूज सर्च@रायगढ़ :- रायगढ़ के नगर निगम स्कूल में बनाए गए वेक्सीनेशन सेन्टर में कोविड वैक्सीन लगाने के तुरंत बाद एक व्यक्ति की हुई मौत का मामला तूल पकड़ता जा रहा है। जिले की जनता में इसे लेकर खासा रोष है और वह सरकार से जवाब मांग रही है कि क्या सच में कोविड वैक्सीन से लोगों की जान जा रही है। इस मामले की सच्चाई जानने शुक्रवार को राजधानी रायपुर से स्वास्थ विभाग की संयुक्त संचालक डॉ. मधुलिका सिंह पहुंची। उन्होंने कहा कि कोविड वैक्सीन से किसी की मौत नहीं हो रही है। यह पहला केस है जब ऐसा हुआ है। युवक की मौत कैसे हुई उसका क्या कारण था यह पोस्टमॉर्टेम के बाद ही बताया जा सकता है।

मामले में जांच परीक्षण करने आई स्वास्थ विभाग के संयुंक्त संचालक मधुलिका सिंह ने बताया कि ऐसा केस लाखों में एकाध होता है। हम इसका परीक्षण करेंगे कि आखिर ऐसा क्यों हुआ। पोस्टमॉर्टेम रिपोर्ट के बाद पता चलने की उम्मीद है कि अचानक इस व्यक्ति की मृत्यु कैसे हुई।

उसके परिजनों ने हालांकि वैक्सीन लगाने के तरीके पर सवाल उठाया और न्याय की मांग की है। वैक्सीन लगते वक़्त जो SOP का पालन किया जाना चाहिए उसका पालन वैक्सीनेशन सेन्टर पर नहीं हो रहा है।

यह है पूरा मामला

आपको बता दें कि गुरुवार को दोपहर रामलीला मैदान स्थित नगर निगम स्कूल के वेक्सीनेशन सेन्टर में रेलवे बंगालपारा निवासी राकेश चौहान कोविड वैक्सीन की दूसरी डोज़ लगवाने पहुंचा था। वैक्सीन लगवाने के बाद उसे बाकायदा ऑबर्जवेशन में रखा गया। इसके बाद वह जैसे ही वैक्सीनेशन सेंटर से बाहर आया और पानी पीकर पिता तो बेहोश हो गया। जब तक लोग कुछ समझ पाते उसकी वहीं पर मौत हो चुकी थी। परिजनों के विरोध को शांत कराने के बाद जिला प्रशासन की टीम ने शव को पोस्टमॉर्टेम के लिए रखवाया। व्यक्ति का पोस्टमार्टम भी इसीलिए करवाया जा रहा है, क्योंकि प्रशासन और सरकार भी इसके पीछे का कारण स्पष्ट करना चाहती है।

You cannot copy content of this page

en_USEnglish
Open chat
विज्ञापन के लिए इस नंबर पर संपर्क करें