June 22, 2021

(पूरी हकीकत)

फेरों से पहले प्रेमी संग भागी युवती ने थाने के मंदिर में रचाई शादी

SDM ने कानूनी रूप से विवाह के बंधन में बंधने की दी अनुमति… प्रेमी युगल की शादी से चर्चित हुआ थाना और वहां का मंदिर

विवेक सिंह, मऊ (चित्रकूट)। शादी के मंडप से भागकर चित्रकूट जिले का मऊ थाना के मंदर में प्रेमी युगल द्वारा शादी करने के बाद यह घटना सोशल मीडिया में खासा चर्चा का विषय बनी हुई है। चित्रूकट जिला ही नहीं शायद उत्तर प्रदेश राज्य के इतिहास में ऐसा पहली बार हुआ है जब एक प्रेमी युवक घर से भाग कर कानून की शरण में पहुंचा। इसके बाद जब उन्हें वहां से एक साथ जीवन गुजारने की मंजूरी मिली तो उसने किसी थाने के मंदिर में जाकर अपना व्याह रचाया हो।

जानकारी के मुताबिक मवईखुर्द गांव की शकुंतला का विवाह उसके परिजन ने सुरौंधा गांव में तय की हुई थी। बीते 29 मई को उसका विवाह होना था। सारी तैयारियां हो गई और 29 मई की शाम को सुरौंधा गांव से दूल्हा बरात लेकर भी मवईखुर्द पहुंचा गया। लड़की ने घर वालों को लाख समझाया, लेकिन जब वह नहीं माने और लड़की को लगा कि अब उसका विवाह जबरदस्ती कर ही दिया जाएगा तो वह फेरे से पहले वह पड़ोसी गांव तेंदुआ माफी निवासी अपने प्रेमी छोट्टन उर्फ रामकेश पटेल के साथ चली गई थी। लड़की वालों ने काफी तलाश किया, लेकिन उसका कहीं पता नहीं चला। आखिर दूल्हे पक्ष ने शादी करने से मना कर दिया और बारात लेकर वापस चले गए।

इसके बाद यह मामला मऊ थाने पहुंचा। पुलिस ने दुल्हन को उसके प्रेमी के साथ पकड़ा और एसडीएम कोर्ट में पेश किया। थाना प्रभारी गुलाब त्रिपाठी ने बताया कि कोर्ट में दोनों के बयान हुए। दोनों बालिग थे। इसलिए उनकी रजामंदी के बाद बृहस्पतिवार को दोनों के परिजनों को थाने बुलाया गया और लड़की लड़की की शादी की मंजूरी दी गई। इसके बाद दोनों पक्ष के परिजन भी राजी हो गए। उनकी रजामंदी के बाद लड़की ने अपने प्रेमी के साथ मऊ थाना परिसर के मंदिर में ही शादी की और माता पिता का आशीर्वाद लिया।

Download Amar Ujala App for Breaking News in Hindi & Live Updates. https://www.amarujala.com/channels/downloads?tm_source=text_share

You cannot copy content of this page

en_USEnglish
Open chat
विज्ञापन के लिए इस नंबर पर संपर्क करें