June 21, 2021

(पूरी हकीकत)

कोरोना ने एक ही परिवार के 8 लोगों की ले ली जान, एक ही दिन 5 लोगों की तेरहवीं देख रो पड़ा गांव

न्यूज़ सर्च डेस्क लख़नऊ :- कोरोना संकट की दूसरी लहर में होने वाली मौतों ने लाखों परिवारों को झकझोर कर रख दिया है। हाल ही में उत्तर प्रदेश के लखनऊ में एक परिवार में एक ही दिन 5 लोगों की तेरहवीं मनाई गयी। इस दौरान जो भी यहां पहुंचा वह अपने आंसू नहीं रोक पाया।

शायद ही किसी ने एक ही परिवार में ऐसी 13वीं शायद ही देखी हो जब 5 लोगों की तस्वीर रखकर एक साथ श्रद्धांजलि दी जा रही है। लखनऊ के ओमकार यादव के परिवार में यह त्रासदी दूसरे कोरोना संक्रमण काल में घटी। लखनऊ से सटे गांव इमलिया पूर्वा में कोरोना की दूसरी लहर एक सैलाब की तरह आई और पूरे परिवार को उजाड़ कर ले गई। हंसते खेलते इस परिवार में 4 औरतें विधवा हो गईं। यहां 7 मौत कोरोना संक्रमण से और 1 बुजुर्ग की मौत दहशत में ह्रदय गति रुकने से हुई है।

जानकारी के मुताबिक 25 अप्रैल से लेकर 15 मई तक एक ही परिवार के 8 लोग कोरोना संक्रमण की चपेट में आकर काल के गाल में समा गए। गांव के मुखिया मेवाराम का कहना है कि इस भयावह घटना के बावजूद भी सरकार की तरफ से न ही कोई सैनिटाइजेशन की व्यवस्था की गई और ना ही कोरोना संक्रमण की जांच अभी तक की गयी है।

इनकी हुई मौत

1- निरंकार सिंह यादव, उम्र- 40 साल, मृत्यु- 25 अप्रैल
2- विनोद कुमार, उम्र- 60 साल, मृत्यु- 28 अप्रैल
3- विजय कुमार, उम्र- 62 साल, मृत्यु-1 मई
4- सत्य प्रकाश, उम्र- 35, मृत्यु-15 मई
5- मिथलेश कुमारी, उम्र-50 साल, मृत्यु- 22 अप्रैल
6- शैल कुमारी, उम्र-47 साल 27 अप्रैल
7- कमला देवी, उम्र- 80 साल, मृत्यु- 26 अप्रैल
8- रूप रानी, उम्र- 82 साल, मृत्यु- 11 मई

You cannot copy content of this page

en_USEnglish
Open chat
विज्ञापन के लिए इस नंबर पर संपर्क करें