September 20, 2021

(पूरी हकीकत)

योग गुरु बाबा रामदेव ने 15 दिन के अंदर नहीं मांगी माफी तो IMA करेगा 1000 करोड़ रुपए की मानहानि का केस

बढ़ी बाबा रामदेव की मुश्किलें… IMA की लड़ाई के बीच अब बिहार बीजेपी अध्यक्ष संजय जायसवाल ने भी साधा निशाना, कहा वे योग गुरु हैं, योगी नहीं

न्यूज सर्च डेस्क :- ऐलोपैथी पद्धति की दवाओं को लेकर दिए अपने बयान से योग गुरु बाबा रामदेव बुरे फंस गए हैं। सोशल मीडिया पर वायरल हो रहे उनके बयान से आईएमए की उत्तराखंड यूनिट खासा नाराज है। उसने बाबा रामदेव को 1000 करोड़ रुपए की मानहानि का नोटिस भेजा है। नोटिस में कहा गया है कि 15 दिन के भीतर बाबा रामदेव उनसे क्षमा मांगे और अपने बयान को सोशल मीडिया प्लेटफार्म हटाएं। ऐसा न करने पर बाबा के खिलाफ एक हजार करोड़ की मानहानि का दावा ठोका जाएगा। आईएमए उत्तराखंड के प्रदेश सचिव डॉ. अजय खन्ना की ओर से मंगलवार को बाबा रामदेव को छह पेज का नोटिस भेजा गया है।

नोटिस में कहा गया है कि बाबा रामदेव ने सोशल मीडिया पर वायरल वीडियो के जरिए ऐलोपैथी डॉक्टरों की छवि को धूमिल करने का प्रयास किया है। ऐसे में उनके खिलाफ मानहानि के दावे के साथ साथ एफआईआर भी कराई जाएगी। इतना ही नहीं आईएमए ने अपने नोटिस में 76 घंटे के अंदर दिव्य श्वासारि कोरोनिल किट के भ्रामक विज्ञापन को भी सभी प्लेटफार्म से हटाने को कहा गया है। डॉ. खन्ना ने कहा है कि बाबा ने भ्रामक विज्ञापन के जरिए कोरोनिल को कोरोना संक्रमण के विरुद्ध प्रभावि दवाई व कोरोना वैक्सीन के दुष्प्रभावों से बचाने वाली दवाई बताया है। उन्होंने कहा कि इस मामले में भी बाबा के खिलाफ आईपीसी की धाराओं के तहत एफआईआर दर्ज कराई जाएगी।

बिहार बीजेपी के अध्यक्ष ने बाबा पर साधा निशाना

बिहार के प्रदेश बीजेपी अध्यक्ष और वहां की पश्चिमी चंपारण लोकसभा सीट से बीजेपी सांसद संजय जायसवाल ने इस विवाद पर अपनी प्रतिक्रिया देते हुए रामदवे पर निशाना साधा है। उन्होंने कहा कि रामदेव योग गुरू हैं, योगी नहीं क्योंकि योगी अपने मस्तिष्क सहित सभी इंद्रियों पर काबू पा लेता है। बीजेपी नेता ने कहा कि योग को घर-घर पहुंचाने में बाबा रामदेव के योगदान को नकारा नहीं जा सकता। उन्होंने अपने आईएमए साथियों से अपील करते हुए कहा कि हमें निरर्थक बातों में प्रतियोगिता कर अपने वर्षों की साधना को बर्बाद नहीं करना चाहिए। यही कोरोना काल में जान गंवाने वाले हमारे मेडिकल चिकित्सकों को सच्ची श्रद्धांजलि होगी। सांसद ने फेसबुक पर लिखा, ‘विगत कुछ दिनों से एक अजीब प्रतियोगिता देख रहा हूं। हर बेतुकी बात का जवाब देना कोई आवश्यक नहीं होता है। ज्यादा बोल कर आप किसी को जरूरत से ज्यादा तवज्जो देने लगते हैं। अभी आईएमए भी ऐसा ही कर रहा है। बाबा रामदेव एक अच्छे योग गुरु जरूर हैं पर योगी नहीं हैं। योग के प्रति उनके ज्ञान पर कोई सवाल नहीं उठा सकता। लेकिन योगी उसको कहते हैं जो अपने मस्तिष्क सहित सभी इंद्रियों पर काबू पा ले।’

You cannot copy content of this page

en_USEnglish
Open chat
विज्ञापन के लिए इस नंबर पर संपर्क करें