September 27, 2021

(पूरी हकीकत)

अब आंख ही नहीं पैर और छाती में भी मिला ब्लैक फंगस का संक्रमण… सिम्स तीन नए मरीज भर्ती

न्यूज सर्च@बिलासपुर :- राज्य में कोरोना के बाद ब्लैक फंगस के बढ़ते मरीजों की संख्य ने स्वास्थ्य विभाग की पहले ही नींद उड़ाकर रखी है। इस बीच आंख के अलावा पैर और छाती में भी ब्लैक फंगस का संक्रमण देखने को मिला है। सिम्स में ब्लैक फंगस के तीन नए मरीज भर्ती हुए हैं। इसके साथ ही यहां अबतक 20 मरीज अब तक भर्ती हो चुके हैं, जिसमें से 5 को रेफर और एक को डिस्चार्ज किया जा चुका है।

सिम्स की पीआरओ डॉ. आरती पाण्डेय ने बताया कि पहली बार किसी मरीज को स्किन में म्यूकोरमाइकोसिस यानि ब्लैक फंगस की शिकायत मिली है। कोरबा जिले के नुनेरा निवासी 72 वर्षीय बुजुर्ग को जब परिजन सिम्स लेकर पहुंचे तो वहां मरीज की जांच हुई। डॉक्टरों ने मरीज के छाती और पैर में ब्लैक फंगस का संक्रमण होने की पुष्टि की। डॉक्टरों का कहना है कि ब्लैक फंगस अधिकतर आंख में देखने को मिलता है किसी को छाती और पैर में म्यूकोरमाइकोसिस होने के चांस काफी कम पाए जाते हैं। इसके अलावा सिरगिट्टी निवासी 43 वर्षीय पुरुष और बेमेतरा निवासी 50 साल की महिला में ब्लैक फंगस की पुष्टि की गई। इसके अलावा यह भी बात सामने आई है कि सिम्स में भर्ती 72 साल के जिस मरीज को छाती और पैर में ब्लैक फंगस हुआ है, उसे कोरोना नहीं था।

डॉक्टर के बिना सलाह के मरीजों ने लीं दवाइयां

नोडल अधिकारी डॉक्टर आशुतोष कोरी का कहना है कि कोरोना होने के बाद मरीजों ने डॉक्टरों की बिना सलाह लिए, मनमानी दवाइयां खाईं। जिसके कारण उन्हें फंगस की बीमारी हो रही है। एंटीबायोटिक दवाइयां लेने की सीमा होती है। लेकिन कई लोगों ने 15 से 20 दिन तक ये दवाइयां ली हैं। लोगों से अपील है कि वे ऐसा न करें। अगर कोविड की चपेट में आ रहे हैं तो डॉक्टर की सलाह लेने के बाद ही दवाइयां लें, ताकि आपको दवाइयां नुकसान न करें।

ऑपरेशन कर निकाला गया ब्लैक फंगस

22 मई को सिम्स के विशेषज्ञ डॉक्टरों की टीम ने सरकंडा निवासी 60 साल की महिला का ऑपरेशन किया था। महिला के जबड़े तक पहुंच चुके ब्लैक फंगस को बड़ी सुरक्षा पूर्वक डॉक्टरों ने निकाला था। वहीं 20 मई को पेंड्रा निवासी 45 वर्षीय महिला के जबड़े में फैले ब्लैक फंगस का ऑपरेशन कर निकाला गया।

You cannot copy content of this page

en_USEnglish
Open chat
विज्ञापन के लिए इस नंबर पर संपर्क करें