June 20, 2021

(पूरी हकीकत)

कनाडा की तरह भारत के प्रधानमंत्री ने लिया देशहित में फैसला लोग करें पालन

भारतीय मूल के कैनेडियन उद्योगपति हेमंत शाह ने कनाडा की स्थिति से कराया अवगत

न्यूज़ सर्च@रायपुर:-  रायपुर में संचालित समाजसेवी संस्था शकुंतला फाउंडेशन से जुड़े समाजसेवी व कैनेडियन उद्योगपति हेमंत शाह ने कोरोना के खिलाफ जारी विश्वव्यापी जंग में भारत के प्रधानमंत्री के द्वारा लिए  गए कठोर निर्णय की सराहना की। उन्होंने कहा कि कनाडा की सरकार ने 7500 मामले सामने आने के बाद अपने कानूनों को कठोर किया,कठोर किया. लेकिन भारत में यह समय रहते हो गया। हेमंत ने कनाडा में कोरोना की स्थिति से अवगत कराते हुए पत्रिका से खास बातचीत में भारतीय कार्य प्रणाली खासतौर पर छत्तीसगढ़ की व्यवस्था की तारीफ की है।

हेमंत ने बताया कि वह छत्तीसगढ़ से लंबे समय से जुड़े हैं। रायपुर एनजीओ और चेंबर के कार्यों से उनका आना लगा रहता है। इसके साथ ही दिल्ली और मुंबई जैसे महानगरों में भी उनका आना जाना होता है। कोरोना को लेकर जितनी बेहतर व्यवस्था भारत या फिर कहें रायपुर में दिखा वह तारीफ के काबिल है। उन्होंने कहा कि आना लगा  आना लगा रहता है। इसके साथ ही उनका दौरा मुंबई, दुनिया भर के तमाम देश वर्तमान में कोरोना जैसी भयंकर महामारी से परेशान हैं। कनाडा  में जब 7500 मामले  कोरोना के सामने आये तो, कनाडाई सरकार ने अपने कानूनों को और सख्त कर दिया है। लोगों ने इसका विरोध किया तो उन्होंने भारत में लगाए गए जनता कर्फ्यू का हवाला देते हुए कहा कि जब वहां के लोग देशहित में साथ खड़े हैं तो इस देश के लोगों को भी समझना चाहिए और सरकार को मदद करनी चाहिए। वह खुद अपने परिवार को साथ 15 मार्च को भारत से कनाडा पहुंचे तो जिम्मेदार नागरिक के नाते पत्नी और बच्चों सहित घर में खुद को आईसोलेट किया। उस समय कनाडा में 500 कोरोना के मरीज थे। यह संख्या 7500 से अधिक है। कनाडा के प्रधान मंत्री जस्टिन ट्रूडो ने हर संभव सहायता देकर लोगों से घर में रहने का आग्रह किया। भारत की तरह वहां भी लोग अपने घर से ऑफिस का काम करते हैं। यहां भी गैर-जरूरी चीजों को बेचना मना है। वहां भी लोग घरों में मनोरंजन करके समय बिता रहे हैं। कनाडा में शोसल साइट्स पर लोग कोरोना के संदेशों को वायरल नहीं करते भारत में यह नहीं होना चाहिए। कनाडा में बाहर से आने वाले हर एक व्यक्ति को 15 दिन तक आईसोलेशन में रखा जा रहा है। यहां 1 अप्रैल से कनाडा की सबसे बड़ी एयरलाइंस 20 प्रतिशत क्षमता पर काम करेगी। कनाडा सरकार ने कोरोना के बढ़ते नए मामलों को देखते हुए स्वास्थ्य क्षेत्र के लिए आर्थिक पैकेज भी जारी किया है। भारत में भी यह पहले ही हो चुका है जो कि विकासवादी सोच का परिचायक है।

You cannot copy content of this page

en_USEnglish
Open chat
विज्ञापन के लिए इस नंबर पर संपर्क करें