September 28, 2021

(पूरी हकीकत)

आरक्षक पुष्पराज की मौत के मामले की जांच करेगी एसीएस की टीम

मंगलवार को गृहमंत्री ने की घोषणा

न्यूज सर्च@जांजगीर-चांपा – आरक्षक पुष्पराज सिंह की संदिग्ध परिस्थितियों में हुई मौत की जांच अब एससीएस सुब्रत साहू की टीम जांच करेगी। प्रदेश के गृहमंत्री ताम्रध्वज साहू ने मंगलवार को इसकी घोषणा की है। आरक्षक की संदिग्ध मौत को हादसा मानने से इनकार उसके परिजन पहले ही कर चुके हैं। साथ ही आरक्षक की मौत के बाद विभाग द्वारा दी जाने वाली अनुग्रह राशि भी उन्होंने लेने से मना कर दिया था।

सक्ती के आरक्षक पुष्पराज सिंह की मौत 13 मई की रात संदिग्ध परिस्थितियों में हुई थी। आरक्षक साथी आरक्षक की स्कूटी लेकर देर रात देशी शराब दुकान की ओर जाते समय बिजली केबल में फंस गए थे, जिससे केबल उसकी गर्दन में उलझ गया और वह टाइट हो गया। आश्चर्य तो यह है कि प्रत्यक्षदर्शी ने उसे निकालने का प्रयास किया तो वह निकाल भी नहीं पाया और आरक्षक की मौत हो गई। एसपी पारुल माथुर ने डीएम से दंडाधिकारी जांच की अनुशंसा की थी।

इसलिए भी हत्या की आशंका

पुलिस की स्टोरी के अनुसार दो बांस को गड़ाकर बिजली का कनेक्शन ले जाया गया था। उसी केबल कनेक्शन में आरक्षक का गला फंस गया। पुलिस की स्टोरी में भी संदेह है क्योंकि आरक्षक यदि केबल से टकराया तो गति के नियम के अनुसार केबल सहित वह सामने गिरता या फिर केबल बहुत मजबूत होता तो स्कूटी आगे बढ़ जाती और आरक्षक केबल के विपरीत दिशा में पीठ के बल गिरता, लेकिन आश्चर्यजनक ढंग से आरक्षक के गले में न केवल केबल टकराया बल्कि वह उसी केबल में उलझ गया और केबल ठीक उसी तरह टाइट हो गया जिस तरह दो दिशाओं से अलग अलग लोगों ने खींच दिया हो। बहरहाल हादसा था या हत्या ये तो जांच के बाद ही स्पष्ट होगा।

इधर दंडाधिकारी जांच भी शुरू आज पहली पेशी

दंडाधिकारी मेनका प्रधान ने भी मामले की जांच शुरू कर दी है। उन्होंने बताया कि मामले मेें बयान दर्ज कराने के लिए 19 मई को विजय सिंह, प्रियंका सिंह, देवेंद्र धीवर, एमएल जलतारे, रामसिंह क्षत्रिय, बीरसिंह क्षत्रिय को बयान दर्ज कराने के लिए समंस जारी किया गया है।
आदेश का पालन होगा।

एएसपी ने आदेश न मिलने की कही बात

ऐसी मीडिया से सुनने को मिला है, अभी आदेश आया नहीं है। जैसा आदेश आएगा उसका पालन किया जाएगा।””

-संजय महादेवा, एएसपी, जांजगीर-चांपा।

You cannot copy content of this page

en_USEnglish
Open chat
विज्ञापन के लिए इस नंबर पर संपर्क करें