May 8, 2021

(पूरी हकीकत)

कोविड-19 के इलाज के लिए स्वास्थ्य सेवाओं का लगातार विस्तार जारी

*प्रदेश के विभिन्न अस्पतालों में 5666 बिस्तर चिन्हांकित, जुटाई जा रही हैं सभी जरूरी व्यवस्थाएं*

न्यूज़ सर्च@रायपुर:-  कोविड-19 के नियंत्रण एवं रोकथाम के लिए प्रदेश में लगातार स्वास्थ्य सुविधाओं का विस्तार किया जा रहा है। प्रदेश के विभिन्न अस्पतालों में 5,666 बिस्तर चिन्हांकित कर जरूरी व्यवस्थाएं सुनिश्चित की जा रही हैं। कोविड-19 के उपचार के लिए विशेषीकृत अस्पताल बनाने के साथ ही सरकारी मेडिकल कॉलेज अस्पतालों और जिला चिकित्सालयों में भी व्यवस्था की गई है। गहन इलाज के लिए इन अस्पतालों के आईसीयू में 525 बिस्तरों के साथ ही 269 वेंटीलेटर्स भी हैं। एम्स तथा जगदलपुर और रायपुर के मेडिकल कॉलेज अस्पतालों में कोरोना वायरस के लिए सैंपलों की जांच हो रही है।

कोविड-19 के लिए बनाए गए विशेष अस्पतालों में 2,966 मरीजों के इलाज की तैयारी है। सभी जिलों में संचालित आइसोलेशन सेंटर्स के 2,700 बिस्तरों में भी इसका उपचार किया जा सकता है। प्रदेश में संचालित 30 चिकित्सा संस्थानों के साथ ही 22 अतिरिक्त केन्द्रों पर कोविड-19 के इलाज की व्यवस्था की जा रही है। इसी तरह 76 आइसोलेशन सेंटर्स के साथ ही 28 नए केन्द्रों पर पर भी आइसोलेशन सुविधा विकसित की जा रही है।
राजधानी रायपुर में ही एक हजार 100 बिस्तरों पर कोविड-19 के इलाज की तैयारी है। डॉ. भीमराव अंबेडकर स्मृति चिकित्सालय में 500 बिस्तर और माना सिविल अस्पताल में 100 बिस्तरों का सर्वसुविधायुक्त विशेषीकृत अस्पताल बनाया गया है। इन दोनों अस्पतालों में आईसीयू और वेंटिलेटर्स के साथ ही संक्रमितों के इलाज व देखभाल के बाद डॉक्टरों एवं अन्य मेडिकल स्टॉफ के डिसइन्फेक्शन (Disinfection) की व्यवस्थाएं की गई हैं। उपयोग किए गए पीपीई, मास्क और अन्य सुरक्षात्मक उपायों को डिस्पोजल के पहले संक्रमणरहित करने की भी व्यवस्था यहां है। डॉ. भीमराव अंबेडकर अस्पताल में अगले 7-8 दिनों में 500 बिस्तरों का विशेषीकृत कोविड-19 अस्पताल आकार ले लेगा। एम्स रायपुर द्वारा भी सुविधाओं का विस्तार कर 500 मरीजों के उपचार की व्यवस्था की जा रही है।

You cannot copy content of this page

en_USEnglish
Open chat
विज्ञापन के लिए इस नंबर पर संपर्क करें