May 16, 2021

(पूरी हकीकत)

संवेदनहीन औद्योगिक इकाईयों के विरोध में ‘एक रुपया चन्दनपान कार्यक्रम’ :- प्रशांत सिंह ठाकुर

न्यूज सर्च.इन जांजगीर

जांजगीर-चाम्पा:- कोरोना काल में सहयोग से मुंह चुरा रहे औद्योगिक प्रतिष्ठानों का विरोध

“मरीहुई संवेदना,
बेशर्मीहै पहचान ।
तेरहवींमें देदो इनको,
एकरुपया चन्दनपान ।।”

…के नारे के साथ सोशल मीडिया में दिन भर चला विरोध

वर्तमान कोरोना संकट काल में समाज का हर वर्ग एक दूसरे को सहयोग के लिए तत्पर है। जिनसे जितना बन पड़ रहा सहयोग कर रहे हैं, पर व्यक्ति या समूह की एक सीमा होती है।
वर्तमान आपदा का स्वरूप बड़ा है , जन-धन की हानि का स्तर भी ज्यादा है । ऐसी घड़ी में जन-सहयोग भी बड़ा चाहिए। जिले की औद्योगिक इकाईयों को ऐसी विकट परिस्थिति में सामने आना चाहिए । दुर्भाग्य है कि जांजगीर-चांपा जिले में 1-2 को छोड़के बाकी सारे प्रतिष्ठान अपनी जिम्मेदारी से मुँह चुराते फिर रहे हैं।संवेदनहीन औद्योगिक इकाईयों के गैर जिम्मेदाराना व्यवहार से खिन्न होकर भाजपा नेता प्रशांत सिंह ठाकुर ने विगत 20 अप्रैल को पुतला जलाकर विरोध प्रदर्शन किया था ।
उन्होंने आज 13 वें दिन मरी हुई नैतिकता वाले औद्योगिक प्रतिष्ठानों की तेरहवीं पर ‘1 रुपया चन्दनपान’ कार्यक्रम चलाया।

इस कार्यक्रम के माध्यम से उन्होंने औद्योगिक इकाईयों की निरंकुशता पर नाराजगी जताते हुए कड़े शब्दों में मुखर विरोध किया।

उन्होंने प्रशासन से मांग करते हुए कहा कि
“इन गैर जिम्मेदार औद्योगिक इकाईयों को कठोर शब्दों में समझाइस दी जाए। साथ ही उनके सहयोग लेकर प्रत्येक विकासखण्ड में कम से कम 50 ऑक्सीजन युक्त बेड तथा अकलतरा-जांजगीर-चाम्पा- सक्ति इन चारों नगर पालिका में 200-200 ऑक्सीजन युक्त बेड वाले कोविड केयर सेंटर प्रारम्भ किया जाए ।

You cannot copy content of this page

en_USEnglish
Open chat
विज्ञापन के लिए इस नंबर पर संपर्क करें