February 24, 2021

(पूरी हकीकत)

एम्स से कोरबा के दो और रोगियों को किया गया डिस्चार्ज, एक्टिव केस हुए पांच

न्यूज़ सर्च@रायपुर:- अखिल भारतीय आयुर्विज्ञान संस्थान रायपुर से कोरबा के दो और रोगियों को डिस्चार्ज कर दिया गया है। अब एम्स में एक्टिव रोगियों की संख्या पांच रह गई है। इसमें चार कोरबा के हैं और एक एम्स का नर्सिंग ऑफिसर शामिल है। सभी की हालत स्थिर बनी हुई है।

एम्स के मेडिकल बुलेटिन के अनुसार दो रोगियों को शुक्रवार को लगातार दो बार टेस्ट नेगेटिव पाए जाने पर डिस्चार्ज करने का निर्णय लिया गया था। इन सभी को विशेष एंबुलेंस के माध्यम से शनिवार की सुबह कोरबा भेज दिया गया। अब एम्स में पांच एक्टिव केस रह गए हैं। शुक्रवार-शनिवार की मध्य रात्रि को एम्स के नर्सिंग ऑफिसर का टेस्ट पॉजीटिव पाए जाने पर उन्हें इलाज के लिए आइसोलेशन वार्ड में एडमिट कर लिया गया है। नर्सिंग ऑफिसर सहित सभी पांच रोगियों की हालत पूरी तरह से स्थिर बनी हुई है।
एम्स रायपुर के निदेशक प्रो. (डॉ.) नितिन एम. नागरकर ने कहा है कि नर्सिंग ऑफिसर के पॉजीटिव पाए जाने के बाद भी सभी चिकित्सकों और नर्सिंग स्टॉफ का कोविड-19 के खिलाफ संघर्ष का संकल्प जारी रहेगा। पूरे एम्स परिवार का मनोबल अभी भी उच्च है। प्रभावित नर्सिंग ऑफिसर की देख-रेख और उनके इलाज की पूरी जिम्मेदारी एम्स परिवार की है।
उन्होंने कहा है कि नर्सिंग ऑफिसर की कांटेक्ट हिस्ट्री के बारे में जानकारी प्राप्त की जा रही है जिससे यदि कोई उसके संपर्क में आया है तो उनको भी क्वारेंटाइन किया जा सके और उनकी जांच की जा सके। उन्होंने कहा कि स्थिति पूरी तरह से नियंत्रण में है और किसी को भी घबराने की आवश्यकता नहीं है। संक्रमण के लिए एम्स सभी आवश्यक उपायों को शुरू से ही अपनाता रहा है जिसका परिणाम है कि सिर्फ एक ही केस सामने आया है।

You cannot copy content of this page

en_USEnglish
Open chat
विज्ञापन के लिए इस नंबर पर संपर्क करें