March 4, 2021

(पूरी हकीकत)

1200 रेडक्रॉस वालेंटियर्स covid-19 की रोकथाम में निभा रहे अहम भूमिका, 29000 लोगों तक पहुंचाई राहत

जिला प्रशासन के साथ मिलकर कोरोना अभियान में काम करने 5 हजार रेडक्रॉस वालेंटियर्स की टीम तैयार

रेडक्रास दिवस पर विशेष

न्यूज़ सर्च@रायपुर. कोविड 19 वायरस की रोकथाम और लोगों की जान बचाने में रेडक्रास वालेंटियर्स की भूमिका भी किसी से कम नहीं है। उन्होंने जिला प्रशासन की टीम के साथ मिलकर कोविड 19 के संक्रमण को रोकने और लॉकडाउन से प्रभावित लोगों को राहत देने के कार्य में अहम भूमिका अदा की है। रेडक्रॉस वालेंटियर्स ने अब तक 29 हजार लोगों तक राहत पहुंचाने का कार्य किया है। उनकी इस सराहनी भूमिका के लिए इंडियन रेडक्रॉस सोसायटी छत्तीसगढ़ के चेयरमेन सोनमणी बोरा ने उनका अभिनंदन भी किया है।

चेयरमेन बोरा ने पत्रिका से विशेष बातचीत में बताया कि जिला प्रशासन के नेतृत्व में सभी जिलों में रोडक्रॉस की टीम कंधे से कंधा मिलाकर काम कर रही है। उन्होंने बताया कि जिला कलेक्टरों के निर्देश पर कोविड-19 के संक्रमण की रोकथाम में प्रदेश में 1200 रेडक्रॉस वालेंटियर्स वर्तमान में अपनी सेवाएं दे रहे हैं। इनके द्वारा अब तक 29000 लोगों को राहत पहुचायी गयी है। राजधानी रायपुर की बात की जाए तो यहां भी रेडक्रास वालेंटियर्स की भूमिका अन्य कर्मवीरों से कम नहीं है। राज्य शाखा के वालेंटियर्स द्वारा पुराने फ्लेक्स में कोविड-19 के संक्रमण एवं रोकथाम हेतु जन जागरूकता के सन्देश दिए जा रहे हैं। इतना ही नहीं उनके द्वार सभी सार्वजनिक क्षेत्रों में जा-जाकर गोला बनाने का काम किया गया है। इससे लोग इन गोलों में खड़ेकर शोसल डिस्टेंसिंग का पालन कर रहे हैं। इसके साथ वालेंटियर्स द्वारा लोगों को घर-घर जाकर मदद पहुंचाई जा रही है। उनके द्वारा वृद्धाश्रम, अनाथालय व अन्य इसी तरह के जगहों में जरूरतमंदों तक भोजन, राशन व दवाएं पहुंचाने का काम किया जा रहा है।

अन्य जिलों में भी बेहतर कार्य 

चेयरमेन सोनमणी बोरा ने बताया कि धमतरी में 456 वालेंटियर्स ने 12000 लोगों को मास्क सेनेटाइजर, हेंडवास का वितरण किया गया और सामुदायिक किचन में भोजन बनाकर जरूरत मंदो को वितरण का कार्य किया जा रहा है। वहीं कांकेर में मजदूरों को भोजन की व्यवस्था और रैन बसेरा में निवासरत लोगों की साहयता की जा रही है। महासमुंद में भी मास्क एवं सेनेटाइजर का वितरण किया गया। राजनांदगांव में मास्क, सेनेटाइजर वितरित करने सहित जरूरतमंद लोगों को भोजन दिया जा रहा है। इसी तरह अन्य जिलों में भी उनके द्वारा जरुरतमंदो को घर पहुंच दवाई उपलब्ध कराए जाने के साथ ही सामुदायिक किचन हेतु जरुरी सामान सब्जियों की आपूर्ति की जा रही है

29 हजार ब्लड यूनिट का कलेक्शन

रेडक्रास ने ब्लड कलेक्शन करने में अहम भूमिका निभाई है। सोसायटी के चेरयमेन सोनमणि बोरा ने जनवरी से मार्च 2020 तक वालेंटियर्स को 25 हजार ब्लड यूनिट कलेक्शन का टारगेट दिया था। वालेंटियर्स ने बेहतर रिजल्ट देते हुए बड़े पैमाने पर रक्तदान शिविर लगाकर 29 हजार ब्लड यूनिट का कलेक्शन किया है। साल 2021 में रेडक्रास सोसायटी ने एक नया मुख्यालय भवन बनाने का लक्ष्य रखा है। इसके साथ ही 10 हजार लोगों को मेडिकल सेवा के लिए प्रशिक्षित करने का भी टारगेट है, इसमें 1000 को प्रशिक्षण दिया भी जा चुका है।

वर्जन- 

छत्तीसगढ़ शासन ने कोविड 19 के संक्रमण को रोकने के लिए जो विस्त्रत अभियान चलाकर काम किया है। लॉकडाउन से प्रभावित लोगों को राहत देने का कार्य किया है। इन दोनों में कार्यों में रेडक्रॉस वालेंटियर्स की भूमिका काफी सराहनी रही है। मैं रेडक्रॉस की टीम को अभिनंदन करता हूं।

–  सोनमणी बोरा, चेयरमेन, इंडियन रेडक्रॉस सोसायटी छत्तीसगढ़

You cannot copy content of this page

en_USEnglish
Open chat
विज्ञापन के लिए इस नंबर पर संपर्क करें