May 6, 2021

(पूरी हकीकत)

कोविड टीका लगवाने में बुजुर्ग हैं सबसे आगे, दूसरों को भी कर रहे प्रेरित

बिलासपुर 16 अप्रैल 2021/
बिलासपुर जिले के 171 टीकाकरण केंद्रों में कोविड टीका लगाया जा रहा है। इसके लिए अकेले नगर निगम क्षेत्र में 40 टीकाकरण केन्द्र बनाएं गए हैं। इसके अलावा 18 निजी अस्पतालों में भी टीकाकरणका कार्य किया जा रहा है। इन सभी टीकाकरण केंद्रों में 45 वर्ष से अधिक आयु के सभी लोग उत्साह के साथ टीका लगवा रहे हैं। इन सभी में देखा जाए तो 60 वर्ष से अधिक उम्र के लोग टीका लगवाने में अग्रणी हैं। इतना ही नहीं वह खुद को टीका लगवाने का अनुभव साझा करके दूसरों को भी टीका लगवाने के लिए प्रेरित कर रहे हैं।

नूतन चौक स्थित आयुर्वेदिक अस्पताल में टीका लगवाने आयी 66 वर्षीय विमला मिश्रा ने बताया “कोरोना संक्रमण से सुरक्षित रहने के लिए टीकाकरण बहुत जरूरी है। मैंने कोविड का प्रथम डोज का टीका लगवाया है। टीका लगवाने के बाद आधा घंटा मुझे कोविड प्रोटोकाल के तहत ऑब्जरवेशन में रखा गया था। मुझे टीका लगवाने में कोई परेशानी नहीं हुई है। मेरी माने तो सभी पात्र लोगों को पूरे उत्साह के साथ कोविड का टीका अवश्य लगवाना चाहिए।“

जोरापारा निवासी कमलेश मिश्रा 56 वर्षीय गृहणी हैं।वहकहती हैं “हम लोग हमेशा मास्क लगाते हैं और सेनेटाईजेशन भी करते हैं। इसके साथ ही टीके के दोनों डोज भी लगवा लें तो करोना संक्रमण की गंभीरता काफी कम हो जायेगी।“

62 वर्षीय रामधन पांडे ने अपना अनुभव साझा करते हुए बताया कि “शुरुआत में तो उन्हें टीका लगवाने में डर लग रहा था, लेकिन अन्य लोग जिन्होंने टीका लगवाया है, उन सभी ने बताया कि टीका पूरी तरह सुरक्षित है। कोरोना से बचाव में टीका कारगर है। उन्होंने कहा कि टीका लगवाने के बाद मैं सुरक्षित महसूस कर रहा हूं।“

50 वर्षीय अंजूपांडे ने कहा “टीकाकरण के लिए सभी व्यवस्था अच्छी है। सुरक्षित तरीके से टीका लगाया जा रहा है।“

56 वर्षीय शिवराज सिंह ने बताया “कोविड संक्रमण की रोकथाम के लिए सभी को टीका अवश्य लगवाना चाहिए। उन्होंने यह भी कहा कि टीका लगवाने के बाद भी मास्क लगाना, फिजिकल डिस्टेंसिंग एवं सेनेटाईजेशन जैसे नियमों का पालन करना जरूरी है।“

You cannot copy content of this page

en_USEnglish
Open chat
विज्ञापन के लिए इस नंबर पर संपर्क करें