April 18, 2021

(पूरी हकीकत)

निलंब‍न से बौखलाए SDO ने पत्नी और बहू को बनाया बंधक…समधी को मारी गोली

न्यूज़ सर्च डेस्क :-
मध्यप्रदेश के रीवा में एक सनकी SDO ने बंदूक अड़ाकर अपनी बहू और पत्नी को बंधक बना लिया। जब बेटी ने यह बात फोन पर अपने पिता को बताई तो उन्हें छुड़ाने पहुंचा समधी को देख SDO ने उन पर भी गोली चला दी। इससे एक गोली उनके पैर में जा लगी। सनकी SDO यह कारनामा यहीं नहीं रुका बल्कि उसने पुलिस को भी चेतावनी देते उस पर फायरिंग करना शुरू कर दिया। आखिरकार, बातों में उलझाकर पुलिस उसके कब्जे से बहू और पत्नी को छुड़ाने में कामयाब रही।

बेटी के पिता की सूचना पर पुलिस मौके पर पहुंची। जब पुलिस ने sdo सुरेश को ऐसा न करने की समझाइश दी तो उसने उन पर फायर कर दिया। इसमें एक गोली श्रीनिवास के पैरों में लगी। इसके बाद वहां अफरा-तफरी मच गई और पुलिस उल्टे पांव लौट गई। एसडीओ ने पत्नी और बहू को घर में कैद कर एक के बाद एक 10 राउंड फायर किए। इससे पूरे इलाके में दहशत फ़ैल गई।

घंटों मशक्कत के बाद पुलिस ने साहस का परिचय दिया और घर का दरवाजा तोड़कर एसडीओ को कब्जे में लेकर परिवार को बंधक मुक्त कराया।
थाना प्रभारी, जगदीश सिंह ने बताया क‍ि पंचायत एवं ग्रामीण विकास विभाग डिंडोरी में सुरेश मिश्रा SDO के पद पर थे जिन्हें हालही में वित्तीय अनियमितताओं के चलते निलंब‍ित किया गया है। नेहरू नगर स्थित आवास में पत्नी और बहू को गनपॉइंट पर लिया था। इसकी सूचना पर पुलिस मौके पर गयी लेकिन SDO की सनक ने पुलिस के होश उड़ा दिए। पुलिस खड़ी रही और एसडीओ ने अपने समधी श्रीनिवास तिवारी को गोली मार दी। इन्हें इलाज के लिए अस्पताल में भर्ती कराया गया है। इस घटना से मोहल्ले में कई घंटों तक दहशत का माहौल रहा।

एसडीओ के बन्दूक का लाइसेंस निरस्त कर दिया गया है। प्रशासन SDO की करतूतों की जांच कर रहा है। वहीं तहसीलदार यतींद्र शुक्ला ने बताया क‍ि SDO के घर में पुलिस को घर में फैला कैश और कुछ कागज़ात मिले, जिससे अंदाज लगाया जा रहा है कि निलबंन की वजह से SDO ने अपना आपा खो दिया और सनक सवार हो गई। इस वजह से वह परिवार की जान लेने पर आमादा हो गए। पुलिस ने एसडीओ को हिरासत में लेकर अस्पताल भेजा है और पूरे मामले की जांच कर रही है।

You cannot copy content of this page

en_USEnglish
Open chat
विज्ञापन के लिए इस नंबर पर संपर्क करें