February 27, 2021

(पूरी हकीकत)

फरार छेड़छाड़ का आरोपी बना नए एसपी के लिए चुनौती

20 दिनों से फरार है पार्षद का बेटा, पेशेवर मुजरिम होता को क्या करती पुलिस

News [email protected]भिलाई. भले ही दुर्ग पुलिस बड़े बड़े आरोपियों को पकड़ने का दावा कर रही है, लेकिन हकिकत यही है कि उनकी कार्यशैली बाप बड़ा न भैय्या सबसे बड़ा रुपैया वाले ढर्रे पर चल रही है। हालत यह है कि एक अदना सा छेड़छाड़ का आरोपी जिसने कभी शायद चीटी भी नहीं मारी, उसे भी पुलिस नहीं पकड़ पा रही है। इसके पीछे आरोपी का सत्तारुढ कांग्रेस पार्टी के पार्षद का बेटा होना बताया जा है। क्षेत्र के बड़े नेताओं के दबाव में पुलिस इस कदर आ गई है कि कोर्ट से डायरी तलब किए जाने के बाद भी पुलिस आरोपी को गिरफ्तार कर पेस नहीं कर पा रही है। लोगों का कहना है कि यह मामला अब जिले के नए एसपी प्रशांत ठाकुर के लिए चुनौती बन गया है। अगर वह जल्द इस छेड़छाड़ के आरोपी को गिरफ्तार नहीं करा पाते तो उनकी पुलिसिंग में बड़े आरोपियों की गिरफ्तारी संभव होती नहीं दिखती है।
भिलाई नगर टीआई त्रिनाथ त्रिपाठी ने बताया कि छेड़छाड़ का आरोपी सेक्टर-10, सड़क-36 निवासी रोहन सिंह पिता अनिल सिंह के घर पर दबिश दी, लेकिन वह घर पर नहीं मिला। पुलिस का कहना है कि वह आरोपी को पकड़ने अब तक दो बार दबिश दे चुकी है। इसके बावजूद उसका पकड़ा न जाना एक बड़ा सवाल खड़ा करता है। गौरतलब है कि 14 जून सेक्टर-10, सड़क 32/34 की घटना है। एक युवती अपने सहेली से पढ़ाई की नोट्स लेने के लिए उक्त सड़क से जा रही थी। आरोपी रोहन ने दिन दहाड़े उसे रोक लिया और अपनी कार में बैठाकर उसके साथ अश्लील शारीरिक हरकते करते हुए उसके साथ छेड़छाड़ किया। दरअसल जिम में एक्सर साइज के दौरान लड़की की रोहन से पहचान हुई थी। इस वजह से रोहन के बुलाने पर वह अपनी स्कूटर को रोककर उससे बात करने लगी। रोहन उससे कुछ बात करने झांसा देकर अपनी कार में बैठाया। इसी बीच उसके साथ अश्लील हरकते करने लगा। पीडि़ता ने उसका विरोध कर गाड़ी से उतने लगी तो रोहन उसके साथ अश्लीलता की। इसके बाद पीड़िता दरवाजा खोल कर बाहर निकली। तब जाकर उसकी अस्मत लूटने से बच गई। पुलिस ने मामले में छोड़छाड़ का प्रकरण दर्ज किया। मामले को विवेचना में लिया है।
कोर्ट ने मंगाई डायरी
टीआई त्रिनाथ त्रिपाठी ने बताया कि तीन दिन पहले सत्र न्यायालय ने डायरी मंगवाए है। डायरी को जमा कर दिया गया है। आरोपी के तरफ से अग्रीम वेल लगाई गई है। अचरज की बात यह है कि इसके बावजूद पुलिस उसे गिरफ्तार कर कोर्ट में पेश नहीं कर पा रही है। आरोपी पुलिस के आंख में धुल झोकर फरार है।

लापता हुई नाबालिग को नहीं तलाश पाई पुलिस नागपुर में मिला लोकेशन तो अब पुलिस कह रही रेड जोन है टीम को जाने का नहीं मिल रही परमिशन
भिलाई. सेक्टर-१० से १६ वर्षीय किशोरी अचानक लापता हो गई। परिजनों ने इसकी शिकायत भिलाई नगर थाना पुलिस से की। पुलिस की ढुलमुल रवैय्या की वजह से पीडि़ता पिता ने उच्च अधिकारियों तक बेटी को खोजने की गुहार लगाई। तब पुलिस ने मामले में अपहरण का प्रकरण दर्ज किया, लेकिन उसे अब तक खोज नहीं सके। पीडि़ता के पिता रोज थाना का चक्कर लगा रहा।
नागपुर में मिला लोकेशन, रेड जोन की वजह से नहीं जा रही टीम
भिलाई नगर टीआई त्रिनाथ त्रिपाठी ने बताया कि जब लड़की घर से लापता हुई। उसी बीच सेक्टर-8 में रहने वाला युवक भी घर से गायब है। उसके परिजनों से पूछताछ की गई, लेकिन वे उसकी जानकारी को लेकर कुछ बोलने को तैयार नहीं है। घटना दिन संदिग्ध के भाई को थाने में बुलाकर पूछताछ की। इसके बाद भी कोई क्लू नहीं मिला। जब उसके लगातार ट्रेस किया गया तो उसका लोकेशन नागपुर क्षेत्र में मिला है। लेकिन सामने मुश्किल यह है कि नागपुर रेड जोन में है। इस लिए टीम को वहां भेजने की परमिशन नहीं मिल रही है।

You cannot copy content of this page

en_USEnglish
Open chat
विज्ञापन के लिए इस नंबर पर संपर्क करें