April 21, 2021

(पूरी हकीकत)

45 वर्ष से अधिक उम्र के लोगों में कोविड वैक्सीनेशन के प्रति बढ़ा विश्वास, पूरे उत्साह के साथ पहुंच रहे टीकाकरण केंद्र

जांजगीर-चांपा, 3 अप्रैल, 2021 –
1 अप्रैल से 45 साल व उससे अधिक उम्र के लोगों का कोविड वैक्सीनेशन शुरू हो चुका है। देखने में आ रहा है कि इस वर्ग में कोरोना से बचाव को लेकर लगने वाले टीके के लिए काफी उत्साह है। इस वर्ग के लोग खुद तो पूरे उत्साह के साथ वैक्सीनेशन सेंटर पहुंच ही रहे हैं, साथ ही दूसरे लोगों को भी इसके प्रति जागरूक कर रहे हैं।

जांजगीर-चांपा जिले के कोटमीसोनार में इन लोगों के साथ कुछ युवा भी आगे आए हैं। इनके द्वारा न सिर्फ लोगों को वैक्सीनेशन करवाने के लिए जागरूक कर रहे हैं, बल्कि उन्हें वैक्सीनेशन सेंटर पहुंचने में पूरी मदद भी कर रहे हैं।

प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र कोटमी सोनार को कोरोना वेक्सिनेशन सेंटर बनाया गया है। यहां पर प्रतिदिन 45 वर्ष से अधिक उम्र वाले लोगों को कोरोना टीका लगया जा रहा है। गांव के लोग टीका लगवाने के लिए जागरूक हों इसके लिए श्री लक्ष्मण कांति सेवा संस्थान द्वारा जागरूकता अभियान चलाया जा रहा है।

संस्था के सहसचिव सुबोध थवाईत ने बताया ‘’भारत वर्ष में विश्व का सबसे बड़ा टीकाकरण अभियान का तीसरा चरण शुरू हो चुका है। कोरोना से मुक्ति पाने के लिए इस टीकाकरण अभियान का सफल होना अतिआवश्यक है। अफवाहों से दूर रहें। टीकाकरण का कार्य स्वास्थ्य विभाग की निगरानी में किया जा रहा है। इससे किसी प्रकार के कोई भी गंभीर प्रतिकूल प्रभाव नहीं हो रहे हैं।

शनिवार को प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र में टीकाकरण के लिए पहुंची 51 वर्षीय ईश्वरी बाई थवाई कहती हैं “जैसे ही मुझे पता चला कि 45 वर्ष से अधिक के सभी लोगों को कोविड-19 से सुरक्षा का वैक्सीनेशन किया जाएगा मैंने ठान लिया कि मैं खुद तो वैक्सीनेशन करवाऊंगी साथ ही अपने परिवार व मोहल्ले के उन सभी सदस्यों का वैक्सीनेशन करवाऊंगी जो 45 वर्ष से अधिक उम्र के हैं। आज मैं और मेरे साथ कुछ अन्य लोगों ने टीकाकरण केंद्र पहुंचकर कोविड-19 से सुरक्षा के लिए टीकाकरण करवाया है।‘’

48 वर्षीय परमेश्वर थवाइत कहते हैं ‘’कई लोगों के मुंह से सुना वैक्सीन लगवाने के बाद भी संक्रमण हो रहा है। लेकिन जब मीडिया से जुड़ी सच्ची खबर के माध्यम से तह तक गया तो पता चला कि वैक्सीन लगवाने के बाद भी हमें कोविड नियमों का पालन करना है। मास्क लगाना है। ऐसा नहीं करेंगे तो संक्रमण होने के खतरा रहेगा, लेकिन पहले से कम। इसलिए मैंने अपना कोविड वैक्सीनेशन कराया और मैं काफी खुश हूं।’’

61 वर्षीय नरायण दास वैष्णव कहते हैं ‘’कोविड वैक्सीनेशन पूरी तरह से सुरक्षित है। इसे लगवाने के बाद उन्हें कोई परेशानी नहीं हुई। थोड़ी देर तक ऑब्जर्वेशन में रहने के बाद वह पहले की तरह ही घर पर हैं।’’

प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र कोटमी सोनार की टीकाकरण प्रभारी डॉ. ऋतु सूर्यवंशी ने लोगों से अपील की है ‘’शासन के निर्देशानुसार कोरोना का टीकाकरण किया जा रहा है। टीकाकरण की जानकारी प्रतिदिन शासन को भेजी जा रही है। ग्रामीण कोरोना का टीका आवश्य लगवाये और उसके बाद मास्क का उपयोग करने सहित कोविड के अन्य नियमों का पालन भी करते रहें।‘’
वैक्सिनेशन सेंटर में आसपास के गांवो से आने वाले लोगों के लिए पूरी व्यवस्था की गई है। ग्राम पंचायत के द्वारा धूप से बचने के लिए टेंट, कुर्सी सहित अन्य आवश्यक सामग्री की व्यवस्था की गई है। मितानिनो द्वारा घर घर जाकर टीका लगवाने लोगों को प्रेरित किया जा रहा है।

You cannot copy content of this page

en_USEnglish
Open chat
विज्ञापन के लिए इस नंबर पर संपर्क करें