April 18, 2021

(पूरी हकीकत)

कांटैक्ट ट्रेसिंग के दौरान मरीज ने छिपाई यह जानकारी तो सीधे दर्ज होगी FIR

न्यूज़ सर्च@रायपुर :- गुरुवार को राजधानी रायपुर में 155 सहित छत्तीसगढ़ प्रदेश में कुल 378 नए मरीज मिले हैं। इतना ही नहीं कोरोना से 3 लोगों की जान भी गई है। अभी तक 50.73 लाख लोगों की जांच हो चुकी है। बढ़ते कोरोना के केस को देखते हुए रायपुर कलेक्टर ने एक और कड़ा फैसला लिया है। अब जो भी व्यक्ति राजधानी में मास्क नहीं पहनेगा और कोरोना नियमों का उल्लंघन करेगा उस पर एफआईआर दर्ज किया जाएगा।

यह आदेश पहले जारी किया जा चुका है। इसके बाद कलेक्टर ने गुरुवार को एक और आदेश जारी किया। आदेश के मुतािबक कोरोना मरीजों की पहचान के लिए शहर में होने वाले सर्वे के दौरान यदि कोई व्यक्ति जानकारी छिपाता है तो उसके खिलाफ भी एफआईआर कराई जाएगी।

दरअसल अफसरों के पास इस बात की लगातार शिकायत पहुंच रही है कि कांटेक्ट ट्रेसिंग के दौरान लोग कर्मचारियों से सहयोग नहीं कर रहे हैं। कलेक्टोरेट में अफसरों की बैठक में कलेक्टर डॉ. एस भारतीदासन ने कहा कि जो पाजिटिव आए वे पिछले दिनों किन रिश्तेदारों, घर-परिवार के लोगों, ऑफिस, व्यापार, दोस्तों से मिले हैं, उनकी सूची अनिवार्य रूप से कॉन्टेक्ट ट्रेसिंग टीम को उपलब्ध करवाएं। ऐसे लोगों का कोरोना टेस्ट करवाया जाएगा, ताकि पता चले कि संक्रमण उन तक भी फैला तो नहीं है।

You cannot copy content of this page

en_USEnglish
Open chat
विज्ञापन के लिए इस नंबर पर संपर्क करें