April 17, 2021

(पूरी हकीकत)

फर्जी प्रमाण पत्र के आधार पर बना गया शिक्षक, कार्यवाही हेतु कलेक्टर से शिकायत

जांजगीर चांपा@न्यूज सर्च- शिवसेना जिलाध्यक्ष ओंकार सिंह गहलौत के नेतृत्व में शिवसैनिकों ने कलेक्टर को ज्ञापन सौंपकर बताया है कि विकास खण्ड मालखरौदा अंतर्गत शासकीय प्राथमिक शाला भठोरा में पदस्थ सुभाष चन्द्रा पिताश्री बलीराम चन्द्रा द्वारा फर्जी प्रमाण पत्र के आधार पर नौकरी किया जा रहा है। जिसकी शिकायत पूर्व में ग्रामीणों द्वारा किया जा चुका है। जिसपर तत्कालीन जिला पंचायत सीईओ ने उक्त प्रकरण में जांच के लिए जांच अधिकारी एच एल भारती प्राचार्य को नियुक्त किया था। जांच उपरांत, जांच प्रतिवेदन में जांच अधिकारी ने भी प्रस्तुत प्रमाण पत्र को फर्जी बताया था, और कडी कार्यवाही की अनुशंसा की थी। साथ ही मालखरौदा बीईओ महोदय के द्वारा भी सुभाष चन्द्रा सहायक शिक्षक के विरूद्ध अनुशासनात्मक कार्यवाही की अनुशंसा की गई थी। जिलाध्यक्ष ओंकार सिंह गहलौत ने कहा कि शिवसैनिकों को मिली जानकारी के अनुसार सुभाष चन्द्रा की प्रथम नियुक्ति सहायक शिक्षक पंचायत के आधार पर शासकीय प्राथमिक शाला भठोरा में 1 सितंबर 2003 को हुई है। जिसमें सुभाष चन्द्रा ने नियुक्ति के समय जो दस्तावेज प्रस्तुत किये थे, उसकी सेवा पुस्तिका के अभिलेख के आधार पर जो कि प्रमाणित दस्तावेज प्रस्तुत किया गया है, वह फर्जी है। सुभाष चन्द्रा के द्वारा नियुक्ति के समय प्रस्तुत विकलांगता प्रमाण पत्र जिसके आधार पर शासकीय प्राथमिक शाला भठोरा में सुभाष चन्द्रा सहायक शिक्षक पंचायत (संविदा) पद पर की नियुक्ति हुई है, वह फर्जी है। कार्यालय सिविल सर्जन सह मुख्य अस्पताल अधीक्षक जिला चिकित्सालय जांजगीर (छ.ग.) ने अपने पत्र क्रमांक 766/ दिनांक 18.06.2018 में स्पष्ट उल्लेख किया है कि सुभाष चन्द्रा पिताश्री बलीराम चन्द्रा की विकलांगता प्रमाण पत्र दिनांक 16.08.2003 दिन शनिवार को मेडिकल बोर्ड की बैठक आयोजित नहीं की गयी है, और न ही इस कार्यालय से जारी किया गया है। कार्यालय के पत्र क्रमांक 35 दिनांक 04.12.2018 के द्वारा विकलांगता प्रमाण पत्र की जानकारी संबंधित संस्थान को पत्र प्रेषित की गई थी। उसमें संबंधित संस्थान के द्वारा जो जानकारी प्रेषित की है। उसमें भिन्नता है। जो फर्जी होने की पुष्टि करता है। सुभाष चन्द्रा सहायक शिक्षक (एल.बी.) अपने नियुक्ति के समय विकलांगता प्रमाण पत्र जो प्रस्तुत किया है, वह पूर्णतः फर्जी है। जिसको लेकर शिवसैनिकों ने जिलाध्यक्ष के नेतृत्व में ज्ञापन सौंपकर उक्त शिक्षक के खिलाफ कार्यवाही की मांग की है। ज्ञापन सौंपने वालों में मुख्य रूप से शिवसेना जिलाध्यक्ष ओंकार सिंह गहलौत सहित चंदन धीवर जिला महासचिव, ईश्वर साहू जिलासचिव, चन्द्रशेखर बरेठ जिला उपाध्यक्ष व प्रभारी बम्हनीडीह, दिलीप साहू जिला उपाध्यक्ष, गौरीशंकर पाणी जिला कार्यकारिणी, रमेश साहू जिला कार्यकारिणी व प्रभारी बलौदा, अभिनय सिंह ब्लॉक प्रभारी नवागढ़, हीरा लाल पात्रे ब्लॉक प्रभारी जैजैपुर, राकेश यादव ब्लॉक उपाध्यक्ष जैजैपुर, बलदेव राज साहू नगर अध्यक्ष जैजैपुर, निकेश बरेठ ब्लॉक उपाध्यक्ष बम्हनीडीह, चैतुराम राज ब्लॉक उपाध्यक्ष नवागढ़, राहुल साहू व अन्य शिवसैनिक उपस्थित थे।

जैजैपुर क्षेत्र में है फर्जी न्युक्तियों की भरमार

वहीं बात की जाए जांजगीर जिले के जैजैपुर विकासखण्ड की तो 2005 के समय हुए शिक्षक कर्मी भर्ती मे फर्जी न्युक्तियो की भरमार है जिसपर समय समय पर आवाज उठाया जाता रहा है , परन्तु विभाग कुंभकर्णीनींद मे सोया हुआ है , अब देखना होगा की सम्पूर्ण जानकारी के साथ हुए शिकायत मे कोई कार्यवाही होती है , या कुंभकर्ण का रिकॉर्ड तोड़ते हुए विभाग नींद से अब भी नहीं उठेगा.

You cannot copy content of this page

en_USEnglish
Open chat
विज्ञापन के लिए इस नंबर पर संपर्क करें