April 19, 2021

(पूरी हकीकत)

मुख्य मंत्री गृह क्षेत्र में सनसनी वारदात, एक परिवार के 5 लोगों की संदिग्ध मौत

पिता पुत्र फंदे पर झूलते मिले तो वहीं मां बेटी की पैरावट में जली भुनी मिली लाश

न्यूज सर्च@ दुर्ग/पाटन –
मुख्यमंत्री भूपेश बघेल के पाटन विधानसभा क्षेत्र में पांच लोगों की संदिग्ध मौत से सनसनी फैल गई है। पांचों लोग एक ही परिवार के सदस्य हैं और नकी इतनी नर्दयिता से मौत हुई है कि साफ पता चलता है कि यह एक जघण्य हत्या का मामला है। मुख्यमंत्री के गृह क्षेत्र में इतनी बड़ी वारदात हो जाने से शासन प्रशासन के हांथ पांव फूल गए हैं। पुलिस के आला अधिकारी घटना का पता लगाने मौके पर पहुंचे हुए हैं। लोगों का आरोप है कि यह एक हत्या है और पुलिस मामले का खुलासा करने की जगह इसे खुदकुशी जैसा एंगल देना चाह रही हैं।

जानकारी के मुताबिक पाटन थाना से महज 3 किलोमीटर दूर ग्राम बठेना निवासी रामबृज गायकवाड़ पिता रंगुराम 55 वर्ष अपनी पत्नी जानकी 45 साल सहित बेटा संजू 24 और दो बेटी दुर्गा 30 साल और ज्योति 22 के साथ रहते थे। शनिवार को गायकवाड़ परिवार 5 सदस्यों की लाश मिली जिससे क्षेत्र में दहशत का माहौल है। पुलिस जब मौके पर पहुंची तो पिता-पुत्र एक ही फांसी के फंदे पर झूलते हुए मिले तो वहीं पैरावट में मां जानकी सहित दोनों बेटी दुर्गा और ज्योति की लाश मिली। इन तीनों की लाश तार से बंधी हुई थी।

पुलिस सूत्रों की माने तो किसी ने इन तीनों को पहले तार से बांधा और फिर पैरावट में फेंककर आग के हवाले कर दिया। सूचना मिलते ही एसपी प्रशांत ठाकुर, ग्रामीण एएसपी प्रज्ञा सहित अन्य आला अफसर मौके पर पहुंचे। मौके पर फॉरेंसिक एक्सपर्ट की टीम पहुंच चुकी है साथ ही डॉग स्कवाड भी बुलाया गया है। पुलिस पूरे एरिया को घेराबंदी कर मामले की जांच में जुटी है। फिलहाल पुलिस भी इस विषय पर कुछ भी कहने से बच रही हैं। लेकिन पुलिस सूत्रों की माने तो पिता- पुत्र की लाश जो एक ही फांसी के फंदे पर लटकी मिली है उनके पैरों में पैरा के जलने से बचे हुए राख चिपके मिले हैं। इससे आशंका जताई जा रही है कि किसी कारण वश पिता- पुत्र ने मिल कर पहले मां और दोनों बेटी को मार कर पैरावट में जला दिया होगा। इसके बाद खुद भी फांसी पर झूल गए होंगे।

पुलिस जांच के लिए यह बुन रही कहानी

पुलिस जांच के दौरान यह आशंका जता रही है कि परिवार के सदस्य कर्ज से परेशान थे। इससे रामबृज और उसके बेटे ने पहले तीनों की हत्या की उसके बाद खुद भी फंदा लगाकर जान दे दी।

अलग-अलग एंगल से की जा रही जांच

पुलिस कर्ज के अलावा पारिवारिक विवाद, चरित्र संदेह या तंत्रमंत्र की दिशा में भी जांच कर रही हैं। फॉरेंसिक एक्सपर्ट, डॉग स्क्वाड और पुलिस टीम को अबतक के जांच में यह लग रहा है कि पिता-पुत्र ने पहले मां-बेटियों की हत्या की होगी और फिर खुद फांसी लगाकर आत्महत्या कर लिए होंगे। पुलिस आशंका जता रही है कि यह पूरी वारदात हत्या के बाद आत्महत्या की है। वारदात का कारण स्पष्ट नहीं हो पाया है लेकिन फिलहाल कर्ज की वजह से इस वारदात को अंजाम दिया गया है बताया जा रहा है। क्योंकि जांच में पता चला कि गायकवाड़ परिवार की अधिकांश जमीन बिक चुकी है और वे कर्ज में डूब गए थे।

You cannot copy content of this page

en_USEnglish
Open chat
विज्ञापन के लिए इस नंबर पर संपर्क करें