March 7, 2021

(पूरी हकीकत)

11 साल की मासूम से दुष्कर्म करने वाले प्रिंसिपल को मिली फांसी, टीचर को हुई उम्रकैद की सजा

बच्ची के गर्भवती होने पर सामने आया था मामला, परिजनों ने दर्ज कराया था मामला

न्यूज़ सर्च डेस्क :-  भारत में रेप की घटनाएं दिनों-दिन बढ़ती ही जा रही है। इस बीच न्यायालय के एक अहम फैसले ने ऐसे ही एक मामले में 11 साल की मासूम को न्याय देकर ऐसी घटनाओं को अंजाम देने वालों के मन में डर जरूर पैदा किया है।
ताजा मामला बिहार की राजधानी पटना का है, जहां एक मासूम बच्ची के साथ हुए दुष्कर्म के मामले में एक दोषी को फांसी और दूसरे को उम्रकैद की सजा सुनाई गई है। घटना का खुलासा मासूम के गर्भवती होने के बाद हुआ था।

घटना सितंबर 2018 की बताई जा रही है। दरअसल पटना के फुलवारी शरीफ इलाके में एक स्कूल में पढ़ने वाली 11 साल की बच्ची के साथ सामूहिक बलात्कार के मामले ने इलाके में सनसनी फैला दी थी। आरोप भी स्कूल के प्रिंसिपल और टीचर पर था।
बच्ची ने जब पेट दर्द की शिकायत की तो उसे डॉक्टर के पास ले जाया गया। जांच में खुलासा हुआ कि वह गर्भवती है। यह देख डॉक्टर और घर वालों के होश उड़ गए थे। इसके बाद उन्होंने पुलिस में शिकायत दर्ज करवाई थी। बच्ची कक्षा पांच की छात्रा थी।
पुलिस ने उस समय पता लगाया कि चेंबर में ही मुख्य आरोपी प्रिंसिपल और टीचर ने उसके साथ दुष्कर्म किया था। इस मामले की सुनवाई चलती रही। पुलिस ने कई सुराग जांच के बाद पेश किए। अदालत ने दोनों आरोपियों को सबूतों के आधार पर दोषी पाया था। इसी कड़ी में 15 फरवरी यानी सोमवार को जिला एवं सत्र न्यायालय ने प्रिंसिपल के लिए फांसी की सजा सुनाई थी। जबकि एक अन्य दोषी टीचर को उम्रकैद की सजा सुनाई गई।

You cannot copy content of this page

en_USEnglish
Open chat
विज्ञापन के लिए इस नंबर पर संपर्क करें