February 28, 2021

(पूरी हकीकत)

होने वाले जीजा ने मासूम की हत्या कर रची अपहरण की कहानी, गिरफ्तार

हो रही शादी को टालने के लिए दिया वारदात को अंजाम, पसरा मातम

न्यूज सर्च डेस्क, बिलासपुर – सुबह से गायब पचपेड़ी सरपंच के 9 साल के भतीजे की लाश गांव के कन्या छात्रावास परिसर में पाई गई। बच्चे की हत्या करने वाला और कोई नहीं बल्कि उसका होने वाला जीजा ही निकला। आरोपी ने खुद बच्चे के अपहरण की झूठी कहानी बनाकर पुलिस व परिजनों को गुमराह करने की कोशिश की। पुलिस ने जब कड़ाई से पूछताछ की तो आरोपी ने अपना जुर्म कबूल कर लिया है। आरोपी ने बताया कि वह यह शादी नहीं करना चाहता था। शादी टल जाए इसलिए उसने इस वारदात को अंजाम दिया।

आरोपी

संबंधित खबर

https://newssearch.in/10563/mp-chattishgarh/

जानकारी के मुताबिक सूरजपुर जिले का रहने वाले ओम नायक (18 वर्ष) की पचपेड़ी सरपंच के बड़े भाई की बेटी से शादी तय हुई थी। रविवार को उनकी सगाई थी। ओम यह शादी नहीं करना चाहता था, इसलिए उसने शादी को टालने के लिए अपने होने वाले 9 वर्षीय साले प्रियांशु की हत्या की योजना बनाई। वह सुबह 8 बजे प्रियांशु को घर से बेर खिलाने के बहाने बाहर ले गया और गला दबाकर उसकी हत्या कर दी। इसके बाद उसने अपहरण की झूठी कहानी गढ़ डाली। पीड़ित पिता पुनीतराम नायक गांव के सरपंच के बड़े भाई हैं। उनका कहना है कि जब काफी देर तक प्रियांशु नजर नहीं आया तो उसकी खोजबीन शुरू की। ओम ने बताया कि वह उसके साथ बंधवापारा तालाब में था। करीब 11.45 बजे वहां बाइक सवार नकाबपोश दो युवक आए। उन्होंने प्रियांशु को बुलाया और गाड़ी में बैठाकर साथ ले गए। प्रियांशु के पिता ने पचपेड़ी थाने में आकर अपहरण की रिपोर्ट दर्ज कराई। आईजी रतनलाल डांगी सूचना मिलते ही पचपेड़ी पहुंच गए थे। पुलिस को ओम नायक के बयान पर संदेह था।

किसी और ने नहीं देखा इसलिए हुआ युवक पर संदेह

आईजी रतनलाल डांगी के अनुसार बच्चे का अपहरण होता तो उसके पीछे अपहर्ताओं की मंशा होती पर इस केस में ऐसा नहीं था। इसलिए पुलिस सभी संभावनाओं पर जांच की । ओम ने पुलिस को बताया था कि बाइक सवार प्रियांशु को बंधवापारा तालाब से भरारी की ओर लेकर गए हैं । पुलिस की एक टीम उस दिशा में जाकर आसपास के ग्रामीणों से पूछताछ की पर कोई सुराग नहीं मिला। इसी तरह ओम नायक के अलावा गांव में किसी ने भी बच्चे को बाइक सवारों के साथ जाते नहीं देखा था। इसलिए ओम नायक से कड़ाई से पूछताछ की गई तो मामला सामने आ गया।

You cannot copy content of this page

en_USEnglish
Open chat
विज्ञापन के लिए इस नंबर पर संपर्क करें